हमको किसके गम ने मारा – Humko Kiske Gham Ne Maara (Ghulam Ali)

Lyrics By: मसरूर अनवर
Performed By: गुलाम अली

हमको किसके गम ने मारा, ये कहानी फिर सही
किसने तोड़ा दिल हमारा, ये कहानी फिर सही

दिल के लूटने का सबब पूछो न सबके सामने
नाम आएगा तुम्हारा, ये कहानी फिर सही
हमको किसके गम ने…

नफरतों के तीर खा कर, दोस्तों के शहर में
हमने किस किस को पुकारा, ये कहानी फिर सही
हमको किसके गम ने…

क्या बताएं प्यार की बाजी, वफ़ा की राह में
कौन जीता कौन हारा, ये कहानी फिर सही
हमको किसके गम ने…

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here